Tally me company kaise banaye

Tally ERP 9 में कंपनी Kaise बनाएं | How To Create Company In Tally ERP9 In Hindi

Tally ERP 9 Me Company Kaise Banaye: चलिए आज जानते हैं Tally ERP 9 में कंपनी कैसे बनाएं ? हम सभी जानते हैं GST आने के बाद Tally सॉफ्टवेयर की वैल्यू पहले के मुकाबले थोड़ी बढ़ सी गई है | हालांकि हम सभी को पता है Tally सॉफ्टवेयर हमारे अकाउंट के लिए काम आता है हमारी Accounting मैनेज करता है | आज के समय में चाहे, व्यापार छोटा हो या बड़ा हर व्यापारी अपने एकाउंटिंग मैनेज करने के लिए Tally का इस्तेमाल करता है | अगर हम सबसे Accounting Best Software की बात करें, तो सबसे पहले नंबर पर Tally ERP 9 का नाम आता है |

यह हमारे काफी अकाउंटिंग समस्याओं को हल करता है | Tally काफी सरल तरीके से अकाउंटिंग मैनेज करता है, चलिए जानते हैं | Tally ERP 9 Me Company Kaise Banaye In Hindi | How To Create Company In Tally ERP 9 In Hindi | आपके सभी प्रश्नों का जवाब इस आर्टिकल में मिल जाएगा, तो चलिए बढ़ते हैं आगे अब..

Tally ERP 9 Me Company Kaise Banaye In Hindi

 Tally में सबसे पहला कदम हमें कंपनी बनाना होता है, इस आर्टिकल में आपको बताऊंगी कंपनी हम Tally में कैसे create कर सकते हैं कंपनी, इस प्रक्रिया दौरान क्या-क्या स्टेप करने होते हैं | मैं सभी स्टेप्स आपको इस आर्टिकल में बताऊंगी तो चलिए शुरू करते हैं :

STEP 1

तो सबसे पहले आपको  Tally ERP 9  के सॉफ्टवेयर को ओपन करना होगा |

STEP 2

आप जैसे ही Tally ERP 9  सॉफ्टवेयर खोलते हैं तो आपको अपने window पर दो  प्रकार के मोड नजर आएंगे | 1. License mode  और 2. Educational mode. चलिए आगे बढ़ने से पहले हम जान लेते हैं कि यह Educational mode और License mode आखिर होता क्या है?

Tally Education mode & license mode

Educational Mode Kya Hai ?

चलिए जानते हैं Educational mode के बारे में,  Tally में Educational mode का उद्देश्य सिर्फ सिखाने के लिए ही उपयोग किया जाता है Educational mode इसमें आप आप अपने प्रतिदिन के लेनदेन की एंट्री नहीं कर सकते क्योंकि इसमें आप तारीख 1 और 2 के ही बेस पर कोई भी एंट्री कर सकते हैं इसके अलावा कोई भी अन्य किसी तारीख की एंट्री नहीं कर सकते, आज की पीढ़ी को सिखाने के उद्देश्य से उपयोग किया जाता है ताकि इस सॉफ्टवेयर से सीख सकें Tally में एकाउंटिंग मैनेज करते कैसे हैं ? कैसे उसमें कंपनी create करते हैं उसमें अपने प्रतिदिन का ब्यौरा कैसे  नोट करते हैं ?

Educational mode का इस्तेमाल करने के लिए हमें सबसे पहले Work in Educational mode पर क्लिक करना होगा इसे चाहे तो आप  कीबोर्ड की शॉर्टकट key ALT+W press  करके भी ओपन कर सकते हैं |

License Mode Kya Hai ?

License mode हमारा purchase mode होता है , अगर हम  Tally ERP 9 से License version खरीद लेते हैं तो आपको काफी सारी एकाउंटिंग से जुड़ी हुई सुविधाएं मिलती हैं  जैसे हम बात करें ऑनलाइन server की तो हम Tally solutions से ऑनलाइन server भी कनेक्ट कर सकते हैं, ऑनलाइन Invoice mail भी भेज सकते हैं | License version हमारे बिजनेस से जुड़ी हुई प्रतिदिन की लेनदेन को आसानी से नोट कर सकते हैं और उन्हें बाद में अपने जरूरत के  अनुसार बदल भी सकते हैं |

STEP 3

Tally सॉफ्टवेयर ओपन होते ही आपको Company Info का ऑप्शन दिखाई देगा अगर यह आपको शो नहीं करता है तो इसकी शॉर्टकट key से भी आप इस window तक पहुंच सकते हैं Company Info की कीबोर्ड शॉर्टकट key है ALT + F3,  इसका भी आप प्रयोग कर सकते हैं

Tally-company-Info

Company Info के विंडो में आपको पांच चीजें दिखाई देंगी

  1. Select Company :  जैसा कि हम सभी को पता है Tally में हम काफी सारी कंपनियां बना सकते हैं तो उनमें से हमें कौन सी ओपन करनी है हम इस ऑप्शन पर क्लिक करके अपनी कंपनी पर जा सकते हैं
  2. Login as Remote User : इसमें आप अपने कंपनी पर रिमोट एक्सेस कर सकते हैं
  3. Create Company :  इस ऑप्शन की मदद से हम अपने कंपनी बना सकते हैं
  4. Backup : बैकअप ऑप्शन अपनी कंपनी का बैकअप रखने में मदद करता है
  5. Restore :  इस ऑप्शन में जो हमने अपनी कंपनी का बैकअप लिया था उसको अगर हमें रिस्टोर करना है तो इस ऑप्शन की मदद से हम अपना बैकअप किया हुआ डाटा रिस्टोर कर सकते हैं
  6. Quit :  इसकी मदद से हम अपने एक स्टेप पीछे जा सकते हैं |

GATEWAY OF TALLY ——–> COMPANY INFO ———-> CREATE COMPANY 

company creation window

कंपनी बनाने के लिए हमें Create Company ऑप्शन पर क्लिक करना होगा इसके साथ ही हमें एक विंडो नजर आएगी जिसे Company Creation Window कहते हैं | चलिए इसके बारे में जानते हैं , किस में क्या-क्या चीजें(Fields) होती हैं, कंपनी बनाने के लिए हमें कौन सी   जरूरी चीजें भरनी होती हैं चलिए वह सारी प्रक्रिया आपको मैं विस्तार से बताती हूं

  1. Directory :  डायरेक्टरी क्या है चलिए मैं आपको समझाती हूं डायरेक्टरी हम उस path  या लोकेशन को कहते हैं जहां हमें अपनी कंपनी का डाटा सेव करना होता है by default Tally  हमें एक C Drive path पहले से ही देता है जिसे हम बदल भी सकते हैं अपने अनुसार,  जहां आप अपनी कंपनी का डाटा सेव करना चाहते हैं उस बात को आप डायरेक्टरी के कॉलम में डाल दीजिए |
  2. Name:  यहां आपको अपनी कंपनी का पूरा नाम डालना होगा
  3. Mailing Name:  इसमें हमारी कंपनी का नाम आता है अगर आप चाहे तो अपने अनुसार इस नाम को  बदल भी कर सकते हैं
  4. Address:  इसमें आप अपनी कंपनी का पूरा पता भरेंगे
  5. Country:  Country में आप India को सेलेक्ट करिए, अगर आप किसी और देश में रहते हैं तो आप उस देश के अनुसार अपनी country का नाम चुन सकते हैं
  6. Phone No: आप अपनी कंपनी का  फोन नंबर भरिए
  7. Mobile No:  इसमें आप कंपनी के मालिक का मोबाइल नंबर भी भर सकते हैं
  8. Fax No:  अगर कंपनी का फैक्स नंबर है तो इसे भरिए और अगर नहीं है तो आप इसे छोड़ भी सकते हैं  इतना जरूरी नहीं है
  9. E-mail :   इसमें आप अपनी कंपनी का ईमेल आईडी भरिए
  10. Website:  अगर आपकी कंपनी के पास वेबसाइट भी है तो आप उसका path/address  पूरा  यहां भरिए
  11. Financial Year Begins form:  यहां  कंपनी का एकाउंटिंग फाइनैंशल ईयर कब से शुरू होता है वह भरेंगे | हालांकि इंडिया में तो फाइनेंसियल ईयर 1 अप्रैल से शुरू होता है और 31 मार्च को खत्म होता है पर इंडिया के बाहर काफी ऐसे देश भी है जहां पर अकाउंटिंग ईयर 1 जनवरी से शुरू होकर 31 दिसंबर को खत्म होता है पर हमें तो इंडिया के हिसाब से चलना है तो आप इस ऑप्शन में 1 अप्रैल भरिए
  12. Books begin from:  इस ऑप्शन में हमें यह पूछा गया है कि हमें अपने अकाउंट की एंट्री किस तारीख से शुरू करनी है तो  दोस्तों जैसा कि हमने अपना फाइनेंसियल ईयर 1 अप्रैल से शुरू किया है वैसे ही हमारी अकाउंट में एंट्री भी 1 अप्रैल से ही शुरू होगी तो आप वैसा ही से भर दीजिए
  13. Tally Vault Password (if any):  यह हमारी कंपनी में पासवर्ड लगाने के काम आता है टैली वॉल्ट पासवर्ड  की मदद से हम अपनी कंपनी में पासवर्ड लगा सकते हैं ताकि कोई दूसरा व्यक्ति इसे access ना कर पाए, यह select company की लिस्ट से भी हमारी कंपनी  को छुपा देता है| आप अगर इसका पासवर्ड भूल जाते हैं तो इसको रिकवर करना भी मुश्किल होता है| आप अगर नहीं चाहते अपनी कंपनी को पासवर्ड देना तो आप इस कॉलम को खाली भी छोड़ सकते हैं
  14. Use Security Control:  आप यहां भी पासवर्ड दे सकते हैं यहां आपको अपना User और उसका पासवर्ड भरना होगा
  15. Base currency symbol:  यहां हमें अपनी country का currency symbol चुनना होता है अगर हम बात करें इंडिया की तो हमें रुपया का सिंबल सिलेक्ट करना होगा और बात करें हम इंडिया के बाहर के देशों की जैसे अमेरिका तो वहां डॉलर करंसी यूज होती है इसलिए वहां की यूजर डॉलर करेंसी पर choose करेंगे
  16. Formal name:  इसमें आप को अपनी करेंसी का फॉर्मल नेम चुनना होता है जैसे हमारे रुपया सिंबल का फॉर्मर नेम Rupee है तो आप इसे चुनेंगे
  17. Suffix Symbol To Amount : Yes/No : यहां आपसे पूछा गया है कि क्या आप अपने बिल के अमाउंट के आगे currency symbol लगाना चाहते हैं या नहीं | अगर लगाना चाहते हैं तो उसे YES कर दीजिए
  18. Add Space Between Amount & Symbol : YES/NO : यहां पूछा गया है कि आप अपने bill k amount और currency symbol के बीच space चाहते हैं या नहीं | उसके अनुसार आप उसे YES और NO चुन सकते हैं
  19.  Show amount In Millions : YES / NO : यहां आप NO ऑप्शन को चुने ,  क्योंकि यहां पूछा गया है कि क्या आप अपने बिल के अमाउंट को मिलियन में दिखाना चाहते हैं या नहीं
  20. Number of Decimal Places : 2 : यह आपको पूछा गया है कि आपको अपने अमाउंट के पीछे कितने डेसिमल प्लेसिस चाहिए तो आप इसे अपनी इच्छा अनुसार भर दीजिए वैसे अधिकतर उपयोग हम बिल में 2 ही का करते हैं
  21. Word Representing Amount After the Decimal : Paise : यहां पूछा गया है कि आप अपने बिल के अमाउंट के पीछे लगे डेसिमल नंबर को शब्दों में क्या दर्शना चाहते हैं तो आप यहां उसे पैसे (Paise) सिलेक्ट कर दीजिए
  22. No. Of Decimal Places for Amount  in Words : 2 : यहां पूछा गया है कि आप शब्दों में अपने बिल के अमाउंट के Decimal places को कितने नंबर में चाहते हैं | यहां पर भी आप 2 ही लिखें |

इतना सब लिखने के बाद आप CRTL + A press कर दीजिए तो आपकी सारी जानकारी सेव हो जाएंगी और हमारी कंपनी create हो जाएगी यानी हमारी कंपनी बन जाएगी |

Read Also: Tally Me GST Bill Kaise Banaye? 

Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आप लोग समझ गए होंगे कि Tally ERP 9 Me Company Kaise Banaye – Aur Kaise बनाते हैं अगर आपको फिर भी कोई प्रश्न मन में आता है कोई भी कंफ्यूजन होती है तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट ड्रॉप कर दीजिए मैं जल्दी कोशिश करूंगी आपकी प्रश्न का उत्तर देने की…

2 thoughts on “Tally ERP 9 में कंपनी Kaise बनाएं | How To Create Company In Tally ERP9 In Hindi”

  1. Pingback: GST Tally Shortcut Keys In Hindi | Tally Tricks List - Kab Kaha Kaise

  2. Pingback: Tally Kya Hai और Kaise सीखें - पूरी जानकारी हिंदी में - Kab Kaha Kaise

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!