Skip to content
Home » Blog » Side Effects Of Relationship On the My Point Of View – Relationship Ke Side Effects

Side Effects Of Relationship On the My Point Of View – Relationship Ke Side Effects

Relationship Ke Side Effects : तो दोस्तों आज मैं आपको अपनी भाषा में एक Teenage का ज्ञान देने जा रही हूं, यह वक्त हर किसी की Life में आता है और जैसा मैंने अपनी इस में यह Feel किया है वैसा ही आप सब ने भी कभी ना कभी किसी के लिए फील जरूर किया होगा, तो चलिए मैं शुरू करती हूं…

आप इस पोस्ट को बस यह सोच कर पढ़िए कि यह मैं आपको आपकी जिंदगी का एक अध्याय द्वारा याद आ रही हूं..

Relationship Ke Side Effects

रिलेशनशिप क्या होते हैं ? तो भाई रिलेशनशिप एक महा Hutiyapa चीज होती है, जिसमें एक लड़की और लड़का प्यार का ड्रामा करते हैं और वह अपना टाइम पास करने के लिए एक दूसरे के साथ वक्त बिताते हैं और उस वक्त बिताने वाले Relation को Relationship का नाम दे देते हैं…

ठीक है मैं यह भी मानती हूं कि आजकल True Love भी होता है जो कि अपने इस रिलेशनशिप को शादी तक लेकर जाते हैं और जन्म-जन्म की कसमे वादे खाते हैं..

ऐसे मैंने भी काफी सारे Couple/Lovers देखे हैं, काफी सारे पार्टनर देखे हैं, जो कि एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते हैं…

पर भाई मैं अपनी दुखी व्यथा बता रही हूं, तो बस इतना ही कहूंगी कि मेरे लिए रिलेशनशिप एक Hutiyapa है या तो मेरा नसीब इतना खराब है कि जो मेरे रिलेशनशिप वाले Matter में कभी Perfect नहीं हो सकता…

Actually, Problem क्या होती है ? रिलेशनशिप में दो बंदे आ तो बड़ी आसानी से जाते हैं, पर कुछ समय बाद उन दोनों में से कोई एक पार्टनर को, दूसरे वाले में Interest दिखाना कम कर देगा, क्यों ?

क्योंकि उसे तो बाहर मारना है, उसको आपसे Better Partner चाहिए, उसे आप नहीं चाहिए, उससे आपसे Better चाहिए, तो आप समझ जाइए कि वह Relation Time Pass के लिए है,

अब ऐसे में अगर उन दोनों में से कोई एक पार्टनर भी अगर सच्चे दिल से प्यार करता होगा जिसे सामने वाले की Care होगी, उसकी Emotions की Care होगी, उसकी फिकर होगी..

पर आपके पार्टनर को आपके इस Emotions, Care और आपकी Feelings से घंटा फर्क नहीं पड़ेगा

ज्यादा ही बोल रही हूं, पर क्या करूं भाई हम पर भी चुकी है और मैं अपने Experience से कह रही हूं..

आपने वह वाली डायलॉग तो सुना ही होगा कि

अगर लड़की दोस्ती के बीच में आ जाए तो ज्यादातर लोग अपनी दोस्ती चुनते हैं, जिससे वह प्यार करते थे उस लड़की को नहीं चुनते, चाहे वह कितनी भी अच्छी हो जाए, कितनी भी साफ दिल की हो, पर लड़कों के लिए तो उनकी दोस्ती ही सबसे ज्यादा ऊपर है…

यार मैं एक प्रश्न पूछती हूं, आपसे चलो यह माना कि प्यार (Love) और दोस्ती (Friendship) में से हमेशा दोस्ती को ही चुनना चाहिए…

पर अगर आपका प्यार ठीक है, वह सच्चा है, वह आपसे किसी भी बात को लेकर अगर सच ही बोल रहा है, तो यार उस पर यकीन तो करो, जरूरी थोड़ी ना है कि हर बार आपकी दोस्ती ही सच्ची और आपको दोस्ती सच बोल रहा हो…

Read Also : Love Quotes – True Love Quotes For Special

Final Words

आखिर मैं बस यही कहूंगी कि मेरे लिए तो रिलेशनशिप वाला Matter, Close हो चुका है, तो अगर किसी ने भी मेरे सामने अब रिलेशनशिप के बारे में कोई भी ज्ञान दिया…

धन्यवाद इतना सब पढ़ने के लिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!