Computer Hardware क्या है और कितने प्रकार के होते हैं

Computer Hardware Kya Hai: चलिए आज जानते हैं, कंप्यूटर हार्डवेयर के बारे में, देखिए दोस्तों आज कल यह प्रश्न बहुत बार पूछा जाता है कि आखिर | Hardware Kya Hota Hai | Hardware Kise Kehte Hai | हार्डवेयर के कितने प्रकार होते हैं |Types Of Hardware In Hindi | इन सभी के बारे में अक्सर किसी भी इंटरव्यू के समय पूछा जाता है और ज्यादातर अगर आप कोचिंग ले रहे होते हैं तो उस समय आपके कंप्यूटर एग्जाम में यह प्रश्न जरूर आता है | इन्हीं सब प्रश्नों का उत्तर देने के लिए यह आर्टिकल आपकी मदद करेगा, अगर आप ऐसे ही यह आर्टिकल पढ़ते रहे तो आपको अपने प्रश्नों के उत्तर स्वयं मिल जाएंगे, तो चलिए शुरू करते हैं |

Computer Hardware Kya Hai – What Is Hardware In Hindi

देखिए दोस्तों यह तो हम सभी जानते कि कंप्यूटर आज के समय में बहुत ही अहम मायने रखता है हमारी जिंदगी में | किसी भी जॉब के लिए अगर आप जाते हैं, तो वहां सबसे पहले आपसे कंप्यूटर के बारे में पूछा जाता है | आजकल तो ऐसा माना जाता है कि भले ही व्यक्ति की पढ़ाई पूरी ना हो, पर उसे कंप्यूटर चलाना अच्छी तरह आना चाहिए | इसीलिए आज हम कंप्यूटर के एक भाग के बारे में बात करने वाले हैं, जैसा कि हम सभी जानते हैं कि एक कंप्यूटर को चलाने के लिए हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों का ही इस्तेमाल किया जाता है | पर आखिर Computer Hardware Kya Hai इसके बारे में चलिए जानते हैं |

देखिए दोस्तों असल में देखा जाए तो कंप्यूटर का कोई भी अस्तित्व नहीं है अगर उसके सहायक उपकरण उसके साथ नहीं है तो, कंप्यूटर अपना सारा काम करवाने के लिए अपने  कुछ सहायक उपकरणों और प्रोग्रामों की मदद लेता है| बिना उपकरण और उसके प्रोग्राम के कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता, यही दोनों एक कंप्यूटर को असल कंप्यूटर बनाते हैं |

Hardware Kise Kahate Hain

इन सभी उपकरणों को मिलाकर एक कंप्यूटर में Term बनती है जिसे हम कहते हैं हार्डवेयर | यानी वे डिवाइस जिनसे मिलकर एक कंप्यूटर बनाया जाता है और उनके सभी सहायक उपकरणों को आप देख सकते हैं जो भी सकते हैं, उन उपकरणों को कंप्यूटर हार्डवेयर कहते हैं | Hardware Kahate Hain | 

Hardware Definition In Hindi : कंप्यूटर के वह भाग जिन्हें हम देख सकते हैं और छू सकते हैं, उन्हें हार्डवेयर कहते हैं | यह कंप्यूटर के बहुत ही अहम भाग होते हैं | जिसमें जिनसे मिलकर हमारे कंप्यूटर का शरीर बनाया जाता है यानी कहा जाए तो पूरा कंप्यूटर तैयार किया जाता है जैसे कि कीबोर्ड, माउस, मॉनिटर, प्रिंटर आदि  यह सभी कंप्यूटर हार्डवेयर हैं|

सॉफ्टवेयर इन हार्डवेयर में जान डालता हैं और उसे कार्य करने लायक बनाता हैं | तब जाकर हमे एक जीवित तथा काम करने योग्य कम्प्यूटर मशीन प्राप्त होती हैं |

मैं आपकी जानकारी के लिए यह बताना चाहती हूं कि कंप्यूटर के  भागो को एक बार असेंबली करने के बाद बहुत कम ही बदला जाता है | यह खासकर तभी बदला जाता है, जब आपके हार्डवेयर में कोई कमी आती है या फिर Software Requirements को वह पूरी नहीं कर पाता |

कंप्यूटर हार्डवेयर का सबसे अच्छा  उदाहरण माना जाता है मॉनिटर को, क्योंकि इस डिवाइस से आप यह पोस्ट पढ़ रहे हैं वह स्क्रीन भी एक तरह का हार्डवेयर ही है और जो कि आउटपुट डिवाइस की Category में ही गिना जाता है |

यह भी जाने : Coolie no-1 (2020) Movie Release date,Cast,Trailer

कम्प्यूटर हार्डवेयर के प्रकार – Type of Computer Hardware in Hindi?

तो चलिए बात करते हैं कंप्यूटर हार्डवेयर के प्रकार की | आखिर कितने टाइप के कंप्यूटर हार्डवेयर होते हैं ? देखिए दोस्तों कंप्यूटर सॉफ्टवेयर पांच प्रकार के होते हैं इन सभी के बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है :

1. System Unit

System Unit एक तरह का कंटेनर होता है, जिसमें कंप्यूटर के बहुत तरह के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण लगे होते हैं | इसका आकार लगभग एक छोटे बॉक्स  की ही तरह होता है, और इसे आम भाषा में CPU भी कहते हैं, पर जो कि गलत है |

2. Input Devices

Input Device वह उपकरण होते हैं जो यूजर के द्वारा सभी आदेशों निर्दोषों को कंप्यूटर तक पहुंचाने का काम करते हैं इनपुट डिवाइस के द्वारा ही आप अपने सभी आदेश कंप्यूटर तक पहुंचाते हैं इसके बाद ही कंप्यूटर अपना कार्य करना शुरू करता है |

Example of Input Device :

  • Keyboard
  • Microphones
  • Mouse
  • Camera
  • Scanner
  • Joysticks

3. Output Devices

Output Device वह उपकरणों को कहा जाता है, जो प्रोसेसर की कोडिंग सूचनाओं को एक व्यक्ति को उसके भाषा में बदलकर उन्हें स्क्रीन पर प्रदर्शित करता है | उस आउटपुट को जिस उपकरण द्वारा दिखाया जाता है, उसे आउटपुट डिवाइस कहते हैं यानी कि आप जो भी कार्य करना चाहते हैं उसका जो भी परिणाम आपको जिन भी उपकरणों की मदद से मिलता है उन उपकरणों को आउटपुट डिवाइस कहा जाता है |

Example Of Output Device :

  • Monitor
  • Plotters
  • Speaker
  • Graphic Output Device
  • Printer
  • Touchscreen

4. Internal Device

Internal Device कंप्यूटर के उन हिस्सों को कहा जाता है, जो कि सिस्टम यूनिट के अंदर मौजूद होते हैं, उन्हें इंटरनल डिवाइस कहते हैं | यह बहुत ही नाजुक होते हैं और इनकी सुरक्षा के लिए इन सभी को एक कंप्यूटर केस में रखने की जरूरत पड़ती है | इन उपकरणों को आप  अपने सिस्टम यूनिट से बाहर निकाल कर नहीं देख सकते हैं |

Examples of Internal Device :

  • Motherboard
  • Fan
  • Network Card
  • Power Supply
  • CPU
  • Hard Disk Drive
  • RAM
  • SMPS
  • DVD Writer

5. Communication Devices

Communication Devices उन उपकरणों को कहा जाता है, जो एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर को संपर्क करने में सहायता करते हैं | इस Category में सबसे Best Example Of Communication Device : Modem है |

Hardware और Software के बीच संबंध

दोस्तों चलिए जान लेते हैं कि आखिर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बीच क्या संबंध है जिसके कारण यह एक दूसरे के बिना  इस्तेमाल नहीं किए जा सकते |

देखिए दोस्तों हार्डवेयर, कम्प्यूटर का शरीर है, तो सॉफ़्टवेयर उसकी आत्मा हैं | दोनों ही एक-दूसरे के बिना अधूरे हैं | हार्डवेयर के बिना सॉफ्टवेयर अपना काम नही कर सकता है और सॉफ्टवेयर के बिना हार्डवेयर का कोई काम नहीं है यह एक माना जाए तो अनुपयोगी  होगा |

कंप्यूटर से कोई भी विशेष काम करवाने के लिए हार्डवेयर पर सही सॉफ्टवेयर का इंस्टॉल होना जरूरी होता है | सॉफ्टवेयर एक  ऐसी चीज है जो कि आपके यूजर और हार्डवेयर के बीच में एक संबंध को स्थापित करने में मदद करता है |

Difference Between Hardware And Software In Hindi

S.No.HardwareSoftware
1Hardware को हम छू कर महसूस कर सकते हैं, उसे देख भी सकते हैं |Software को नहीं देखा जा सकता है और ना ही छुआ जा सकता है, इसे सिर्फ काम करते वक्त महसूस किया जा सकता है |
2हार्डवेयर में एक Physical Component होता है, Physical Component का तात्पर्य है कि हार्डवेयर की संरचना और बनावट होती है |सॉफ्टवेयर की कोई भी Physical Component नहीं होता है, क्योंकि यह कंप्यूटर के अंदर Internally Programming या कहें तो Internally काम करता है |
3 हार्डवेयर कई सारे छोटे-छोटे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से मिलकर circuit बोर्ड पर बनाया जाता है | जिसमें कि हर एक छोटे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का अलग ही काम होता हैछोटे-छोटे Set of Programs से मिलकर एक सॉफ्टवेयर का निर्माण किया जाता है, मतलब कि कई सारे छोटे-छोटे प्रोग्राम्स को मिलाकर एक सॉफ्टवेयर बनाया जाता है, और अगर कहीं पर भी Programmings या Coding गलत होती है तो उसका सीधा प्रभाव सॉफ्टवेयर की गतिविधि पर पड़ता है |
4Hardware Upgrade करने के लिए हमें हमेशा हार्डवेयर को बदलना पड़ता है, क्योंकि यह Solid Body का होता है, तो इसमें कोई भी बदलाव नहीं किया जा सकता |Software Upgrade करने के लिए, हमें सॉफ्टवेयर को बदलने की या Replace करने की जरूरत नहीं पड़ती, हम इसका Online Latest Version Download कर सकते हैं |
5Example of Hardware : Mouse, Monitor, Keyboard, UPS, etc.Example of Software: MS Office Tools i.e. MS Excel, MS Word, Photoshop, Corel Draw, etc.

Hardware Upgradation क्या हैं – What is Hardware Upgradation in Hindi?

देखिए दोस्तों कंप्यूटर के Features, Performance, Speed उसी कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए किसी एक ही या उससे अधिक डिवाइसों को एक नई तरह की तकनीक और उसकी Performance के उपकरण के साथ बदलना Hardware Upgrade करना कहलाता हैं |

उदाहरण के लिए, अगर आपके  कंप्यूटर में 2 GB DDR2 RAM पहले से लगी हुई है और आप अपनी कंप्यूटर में स्टोरेज बढ़ाने के लिए, उसे बदलकर 4GB DDR2 RAM  कर लेते हैं | तो तब यह RAM Upgrade  करना कहलाया जाएगा और ऐसे ही अगर आप किसी अन्य डिवाइसों के साथ करते हैं, तो इसी नियम को उन पर भी लागू किया जाएगा |

कंप्यूटर में किसी भी डिवाइस को या कहीं तो किसी भी उपकरण को अपग्रेड कर सकते हैं | अपने कंप्यूटर की कार्यक्षमता, Performance अपने अनुसार उपकरणों को बदलकर बढ़ा सकते हैं |

यह भी जाने : Tally Kya Hai – What Is Tally In Hindi

My Words

वैसे तो कंप्यूटर के लिए हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों ही बहुत जरूरी होते हैं, उसे चलाने के लिए पर यह भी जाना जरूरी होता है कि आखिर  Hardware Kya Hai In Hindi,  और हार्डवेयर कितने कितने टाइप्स के भी होते हैं, इन सभी चीजों के  लिए एक विद्यार्थी या कहे की एक व्यक्ति को जानना बहुत जरूरी होता है | आज के इस पोस्ट में यही बताया गया है और यही समझाया गया है कि Computer Hardware Kya Hai, मुझे उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा, अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें |

2 thoughts on “Computer Hardware क्या है और कितने प्रकार के होते हैं”

Leave a Comment