How To Register Online FIR In Hindi

 Online FIR Kaise Kare : चलिए आज जानते हैं कि Online FIR Kaise Karte Hain, दोस्तों हम सभी जानते हैं कि भारत में काफी चीजें ऐसी हैं जो ऑनलाइन कर दी गई है, काफी चीजों की ऑनलाइन सर्विस भी प्रदान करने लगे हैं | अब बात करें जैसे शॉपिंग की, कोई फॉर्म भरने की, फूड ऑर्डर करने की, आदि | इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं ऑनलाइन FIR कैसे करते हैं ? दोस्तों यह काफी कम ही लोग जानते हैं कि Online FIR भी दर्ज करी जाती है और वह भी उतनी ही मान्य होती है, जितनी कि पुलिस स्टेशन में जाकर दर्ज कराई गई FIR करते हैं, तो चलिए शुरू करते हैं |

Online FIR  क्या है – What Is Online FIR In Hindi

चलिए पहले जान लेते हैं कि Online FIR Kya Hoti Hain ?  सबसे पहले बात करते हैं FIR की फुल फॉर्म क्या होती है ?

FIR Full Form : First Information Report

पुलिस स्टेशन में पुलिस कर्मचारी द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट को FIR कहा जाता है, अगर सरल भाषा में कहा जाए तो पुलिस को दी गई वह सूचना जो कि अपराध से संबंधित होती है,  और जो कि पुलिस कार्यवाही में अहम साबित होती है, उस दर्ज की गई सूचना को FIR कहा जाता है |

मैं आपकी जानकारी के लिए बताना चाहती हूं कि भारत में हर एक नागरिक को FIR दर्ज कराने का अधिकार होता है | FIR सबसे अहम रिपोर्ट साबित होती है, अपराधी को सजा दिलवाने के लिए |

अगर हम बात करें किसी चोरी की, तो उस स्थिति में उस चीज का Insurance Claim करवाने के लिए भी हमें FIR दर्ज कराना बहुत जरूरी होता है | बिना FIR दर्ज कराएं, यह साबित नहीं होता कि आपकी वह चीज चोरी हो गई है, पर अगर यह सूचना गलत साबित होती है या कहें कि आप झूठी FIR लिखवाते हैं, तो उस स्थिति में आप को पुलिस कड़ी से कड़ी सजा दे सकती है |

FIR रिपोर्ट को प्राथमिकी भी कहा जाता है | वह इसलिए कहा जाता है,  क्योंकि पुलिस बिना वारंट (Warrant) के भी अपराधी को FIR रिपोर्ट के आधार पर गिरफ्तार भी कर सकती है |

ZERO FIR क्या है – What Is Zero FIR In Hindi

चलिए जरा अब जान लेते हैं कि Zero FIR क्या होती है ? देखिए दोस्तों यह तो हम सभी जानते हैं कि जिस इलाके में अपराध होता है, उसी इलाके के थाने में FIR दर्ज करानी होती है |  पर अगर किसी परेशानी की वजह से आप उस इलाके में FIR दर्ज नहीं करा पाते हैं और किसी दूसरे इलाके में जाते हैं FIR दर्ज कराने तो, उसे FIR को Zero FIR घोषित किया जाता है,  क्योंकि आपने FIR उस इलाके में दर्ज कराई है जाकर, जहां पर वह अपराध नहीं हुआ है | Zero FIR दर्ज कराने के बाद उस पुलिस स्टेशन का सबसे बड़ा अधिकारी,  वह Zero FIR उस इलाके में ट्रांसफर कर देता है जिस इलाके में अपराध किया गया | ताकि वह उस FIR के ऊपर कार्रवाई कर सकें |

यह भी पढ़ें : Aadhar Card Download Kaise Kare 2020 In Hindi

FIR दर्ज कौन करवा सकता है ?

देखिए यह तो हमने जान लिया कि FIR होती क्या है, पर यह भी जानना जरूरी है कि आप किन किन मामलों में FIR दर्ज करवा सकते हैं | यह जरूरी नहीं है कि जो व्यक्ति अपराध से पीड़ित है, वही पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज करवा सकता है | यह अधिकार भारत के हर एक नागरिक को दिया गया है कि किसी भी अपराध के बारे में सूचना मिलने पर या किसी भी तरह की अपराध से संबंधित जानकारी मिलने पर वह अपने पास के पुलिस स्टेशन में उस अपराध की सूचना दी जाए |

  • अगर आपका मोबाइल, वाहन, सिम कार्ड, जरूरी Documents, आदि खो जाते हैं या यह कहें कि चोरी हो जाते हैं तो उसके संबंधित आप Online FIR भी दर्ज करवा सकते हैं | उसके लिए आपको अब पुलिस स्टेशन में जाकर FIR दर्ज कराना जरूरी नहीं है |
  • और अगर आपको किसी भी अपराधिक घटना के संबंधित कोई जानकारी मिलती है, तो उसे आप बिना किसी संकोच के आप ऑनलाइन रिपोर्ट दे सकते हैं, या पुलिस स्टेशन में जाकर भी इसकी जानकारी दे सकते हैं |
  • किसी भी गुमशुदा व्यक्ति या मृत शरीर की सूचना, आप Online FIR सर्विस के द्वारा भी दर्ज करवा सकते हैं |

How To Register Online FIR In Hindi

देखिए दोस्तों सभी राज्यों की Online FIR दर्ज कराने की वेबसाइट अलग-अलग होती है | आप जिस भी राज्य से Online FIR दर्ज कराना चाहते हैं, उस राज्य की ही वेबसाइट पर जाकर अपनी FIR दर्ज करवाएं | आपकी मदद के लिए मैंने कुछ वेबसाइटों के लिंक नीचे दिए हुए हैं आप उन पर भी क्लिक करके उस राज्य की पुलिस वेबसाइट पर आसानी से पहुंच सकते हैं :

चलिए अब जानते हैं कि Online FIR Register Kaise Kare ?

Step 1 : सबसे पहले आपको अपने राज्य की पुलिस की Official Website पर जाना होगा, और वहां जाकर आपको अपना अकाउंट बनाना होगा | आपको वेबसाइट पर तीन ऑप्शन दिखाई देंगे जो है :

i. Existing User

ii. New User

iii. Authenticate Submitted Report

अगर आपने पहले कभी ऑनलाइन FIR दर्ज नहीं करी है, या कभी अकाउंट नहीं बनाया है | तो यहां आपको New User के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और वहां आपको कुछ चीजें पूछी जाएंगी, जैसे कि आपकी e-Mail ID, फोन नंबर, आपका नाम | इन सब चीजों को भरने के बाद आप उसको सबमिट कर दीजिए, इसी के साथ आप का एक नया अकाउंट बन जाएगा |

Step 2 : आपको उस वेबसाइट पर FIR Complaint का ऑप्शन नजर आएगा, उस पर क्लिक करिए |

Note:  हर एक राज्य की पुलिस वेबसाइट में FIR Complaint का ऑप्शन अलग-अलग जगह पर दिया होता है | यह आपको खुद ही देखना पड़ेगा कि वेबसाइट में यह किस स्थान पर है |

Step 3: इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा | जिसमें आपको फॉर्म नजर आएगा, उसमें आपको घटित समस्या, अपराध के संबंधित जानकारी देनी होगी |

Step 4: पूरा फॉर्म भरने के बाद यह जरूर देखे कि आपके द्वारा दी गई सभी जानकारी सही है या नहीं | क्योंकि अगर एक बार रिपोर्ट दर्ज हो गई, तो उसमें बदलाव लाना बहुत ही मुश्किल होता है |

इसके बाद आप नीचे दिए गए Captcha Code को भरके, submit के ऑप्शन पर क्लिक करें | इसके बाद आप से OTP लिखने को कहा जाएगा, आपने जिस भी फोन नंबर से यह अकाउंट बनाया है | उस अकाउंट पर एक verification code जाएगा, वह कोड आपको यहां लिखना होगा और Verify के बटन पर क्लिक करना होगा |

इसी के साथ आपके सामने Online FIR की कॉपी दिखाई देगी | इस कॉपी का प्रिंट आप किसी भी स्थान से आसानी से निकलवा सकते हैं |

My Words

            यहां मैंने आपको बताया कि FIR क्या होती है, किन किन मामलों में FIR दर्ज करी जा सकती है, Online FIR Kaise Kare और Step By Step मैंने आपको FIR रजिस्टर करने के बारे में विस्तार से इस पोस्ट में बताया है |मुझे उम्मीद है दोस्तों की आपको यह जानकारी कहीं ना कहीं मददगार साबित होगी और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे आप अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें |

Leave a Comment